Skip to content

Posts under Poems Category

जब सिपाही गोली लगने पर आखरी साँसे लेते हैं जब वो फ़तेह के लिए अपना खून पसीना देते हैं जब छोटे बच्चों को देश के…

दिल की गहराई मे एक एहसास छिपा बैठा है मन के भीतर एक ख़्वाब छिपा बैठा है आज के प्यार से डरकर मायूस दिल मे…

जीवन और मृत्यु मे अंतर है इतना मृत्यु मे शहद रूपी रस है जितना जीवन तो एक अभिशाप है उसमे तो रस नही है इतना…

कल मैने चाँद का दीदार किया कुछ तकरार तो कुछ इक़रार किया चाँद मे अपनी चाँदनी की तड़प देखकर दिल ने कहा काश कोई होता…

रिम-झिम बरसात के आगोश मे गरजते बादलो के आक्रोश मे सतरंगी इंद्रधनुष के रंगो को देखता हूँ लेकिन फिर आज क्यों इस नज़ारे को देखकर…

ज़िंदगी तो रूठ गयी है हमसे फिर भी हम जिए जा रहे हैं बैठे हैं अपने गम मे शामिल होके मौत का इंतेज़ार किए जा…

जीने को तो ज़िंदगी जी रहे हैं पर आज मार जाने को दिल चाहता है आँखो मे आँसू, दिल मे रुसवाई है किसी के कंधो…